Shayari SMS

Judaai Shayari

Har Mulakaat Par Waqt Ka Takaaza Hua

हर मुलाकात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ,
हर याद पर दिल का दर्द ताज़ा हुआ,
सुनी थी सिर्फ लोगों से जुदाई की बातें,
खुद पर बीती तो हकीक़त का अंदाज़ा हुआ।

Har Mulakaat Par Waqt Ka Takaaza Hua,
Har Yaad Par Dil Ka Dard Taaza Hua,
Suni Thi Sirf Logon Se Judaai Ki Baatein,
Khud Par Beeti To Hakiqat Ka Andaza Hua.