Shayari SMS

ज़िंदगी का इम्तिहान…


शायद यही ज़िंदगी का इम्तिहान होता है,
हर एक शख्स किसी का गुलाम होता है,
कोई ढूढ़ता है ज़िंदगी भर मंज़िलों को,
कोई पाकर मंज़िलों को भी बेमुकाम होता है।

Spread the love

Leave a Reply

Required fields are marked *.