Shayari SMS

Yaad Shayari

अभी मशरूफ हूँ काफी…

अभी मशरूफ हूँ काफी,
कभी फुर्सत से सोचूंगा,
कि तुझको याद रखने में,
मैं क्या क्या भूल जाता हूँ ।

Yaad Shayari

बन कर अजनबी…

बन कर अजनबी मिले थे ज़िंदगी के सफ़र में,
इन यादों के लम्हों को मिटायेंगे नहीं,
अगर याद रखना फितरत है आपकी,
तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं।

Yaad Shayari

तन्हाई मेरे दिल में…

तन्हाई मेरे दिल में समाती चली गयी,
किस्मत भी अपना खेल दिखाती चली गयी,
महकती फ़िज़ा की खुशबू में जो देखा प्यार को,
बस याद उनकी आई और रुलाती चली गयी।

Yaad Shayari

याद आती है उनकी हमें…

कोई चला गया दूर तो क्या करें,
कोई मिटा गया सब निशान तो क्या करें,
याद आती है उनकी हमें हद से ज्यादा,
मगर वो याद ना करें तो क्या करें…।